Breaking News

झंझारपुर लोकसभा क्षेत्र के युवाओं को निशुल्क मिलेगी यूपीएससी (IAS, IPS) की कोचिंग

Views: 118
0 0
459 Views

झंझारपुर लोकसभा क्षेत्र के यूवा व प्रतिभान कांग्रेस नेता मंज़ूर आलम के अथक प्रयासों का नतीजा है कि अब झंझारपुर लोकसभा क्षेत्र व उसके आस-पास के ग्रामीण युवा भी आईएएस (IAS) और (आईपीएस) IPS बनने का सपना खुली आंखों से देख सकेंगे और उसे पूरा कर पाएंगे। दरअसल, ग्रामीण युवा जो आईएएस (IAS) और आईपीएस (IPS) बनने का सपना देखते हैं लेकिन परिवार की आर्थिक स्थिति कमजोर होने की वजह से अपने सपने को पूरा नहीं कर पाते, अब उनके सपने को पूरा करने के लिए मंज़ूर आलम ने ALS कोचिंग इंस्टीट्यूट के एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर मनीष गौतम से बात कर एक सुनियोजित योजना बनाई है, जिसके बाद झंझारपुर लोकसभा क्षेत्र के अररिया संग्राम में ALS कोचिंग इंस्टीट्यूट बनाने पर सहमति बनी। इसके बारे में जानकारी देने के लिए बीते दिनों अररिया संग्राम में लोगों के साथ संवाद कार्यक्रम रखा गया, जिसमें मुख्य अतिथि के रूप में दिल्ली पुलिस के स्पेशल सीपी रॉबिन हिबु (IPS) ने शिरकत की। रॉबिन हिबु (IPS) ने अपने संबोधन में कहा कि जिन छात्रों का परिवार आर्थिक रूप से कमजोर होगा उसे स्कॉलरशिप दी जाएगी। उन्होंने आगे कहा कि मंजूर आलम के साथ मिलकर मेरी संस्था हेल्पिंगहैंड्स ( Helping hands) देश के सभी राज्यों में गरीब बच्चों के लिए नि:शुल्क आवासीय स्कूल खोलने की योजना भी बना रही है ताकि बच्चों के भविष्य के साथ देश का भविष्य भी और उज्जवल हो सके।
वहीं, मंजूर आलम ने संवाद कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि मैंने अपने आस-पास के कई लोगों को सुना व देखा है कि वो अपने बच्चे को आईएएस (IAS), आईपीएस (IPS) बनाना चाहते हैं लेकिन आर्थिक स्थिति सहीं नहीं होने के कारण बनवा नहीं पाते। कई जरूरतमंद उनके पास मदद मांगने भी आते हैं और जितना संभव हो वे करते भी हैं। उन्होंने आगे बताया कि क्षेत्र में प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए निजी क्षेत्र में प्रशिक्षण व्यवस्थाओं में संसाधनों की कमी से ग्रामीण क्षेत्र तथा निर्बल आय के परिवारों के बच्चे प्रतिभावान, मेधावी व लगनशील एवं परिश्रमी होते हुए भी गुणवत्तापरक तैयारी नहीं कर पाते, जिससे इनकी प्रतिभाओं का समुचित निखार नहीं हो पाता है। लेकिन अब ऐसा नहीं होगा। आलम ने आगे बताया कि अब हर साल गरीब बच्चों को संघ लोक सेवा आयोग (यूपीएससी) के लिए नि:शुल्क कोचिंग दी जाएगी। इसके लिए छात्रों को आवेदन करना होगा। स्क्रीनिंग कमिटी चयन करेगी के वे योग्य हैं या नहीं।
ALS कोचिंग इंस्टीट्यूट के एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर मनीष गौतम ने भी अपने संबोधन में कहा कि अब गरीब परिवार के बच्चे भी IAS और IPS बनने के सपने को देखेंगे और साकार करेंगे साथ ही अपने जिले और ग्रामीणों का नाम रोशन करेंगे। साथ ही उन्होंने कहा कि वो कांग्रेस नेता श्री मंजूर आलम के आभारी रहेंगे की उन्होंने ऐसे नेक योजना को अजाम देने के लिए पहल की और इस योजना में काम करने के लिए हमें भी प्रेरित किया। गौतम ने आगे कहा कि कांग्रेस नेता मंजूर आलम हमेशा से ही झंझारपुर के लोगों व गरीब लोगों के हित में कार्य करते रहे हैं। अब युवाओं के लिए ALS इंस्टीट्यूट शुरू कराने का काम ग्रामीण युवाओं व आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के लिए मील का पत्थर साबित होगा। जनता का भी मंज़ूर आलम को भरपूर प्यार और समर्थन मिलता रहा है। झंझारपुर लोकसभा क्षेत्र की जनता का कहना है कि उनके लोकसभा क्षेत्र को मंज़ूर आलम जैसे कर्मठ, जुझारू और जनता के बीच में रहकर जनता के लिए काम करने वाले नेता की जरूरत है।

About Post Author

अनwar

सत्य परेशान हो सकता है, लेकिन पराजित कभी नहीं !! <a href="https://twitter.com/mdanwar010">follow me at Twitter @mdanwar010</a>
Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %

Average Rating

5 Star
0%
4 Star
0%
3 Star
0%
2 Star
0%
1 Star
0%

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *