NSUI ने दिल्ली विश्वविद्यालय में कराया वाद विवाद प्रतियोगिता

महेंद्र कुमार-युवा पत्रकार, नई दिल्ली।। बुधवार को छात्र संघ NSUI ने दिल्ली विश्वविद्यालय में वाद विवाद प्रतियोगिता का आयोजन किया। वाद विवाद का आयोजन दिल्ली विश्वविद्यालय नार्थ कैम्पस के सत्यकाम भवन मे किया गया। इस वाद विवाद प्रतियोगिता में चार विषय दिये गए थे।

1◆ क्या धरा 370 को हटा देना चाहिए
2◆ आधार कार्ड को सभी चीजो से जोड़ना निजता के अधिकार का हनन है।
3◆ शिक्षा का निजीकरण
4◆ भारतीय लोकतंत्र की स्थिरता

इस प्रतियोगिता मे दिल्ली विश्वविद्यालय के अलावा दूसरे विश्वविद्यालय के छात्रों ने भी भाग लिया। सभी प्रतियोगियों ने प्रतियोगिता को अपनी तर्क शक्ति के माध्यम से उच्च स्तरीय बना दिया। सभी ने अपने-अपने विचार रखे। इस वाद विवाद मे प्रतियोगी के द्वारा जिन विषयों को चुना गया वर्तमान समय मे यह बहुत प्रचलित है। प्रथम चरण में 65 प्रतिभागियों ने भाग लिया। रुचि के अनुसार प्रतिभागियो ने अपना विषय चुना। दूसरे चरण मे 14 प्रतिभागियो को चुना गया। दूसरे चरण का विषय था “भारत सरकार दुवारा पास किया गया अध्यादेश महिलाओ के खिलाफ हो रहे अपराधों को रोक पायेगा”। यह विषय बहुत ही तत्कालिक है। यह कदम भारत सरकार द्वारा महिलाओं के साथ बढ़ रही बलात्कार की घटनाओ को रोकने के लिये उठाया गया हैं। इस प्रतियोगिता मे जामिया विश्वविद्यालय से मोहम्मद आतिफ प्रथम स्थान हासिल करने में कामयाब रहें वहीं दुसरा स्थान दिल्ली विश्वविद्यालय में लॉ के विद्यार्थी रहें। मोतीलाल नेहरू कॉलेज कि सुष्मिता तीसरे स्थान पर रहीं। ऐसा माना जा रहा है कि इस वाद विवाद के माध्यम से NSUI आने वाले दिल्ली विश्वविद्यालय छात्र संघ के चुनावों के लिये अपनी कमर कस रही है। NSUI ने सरकार द्वारा पास किये आध्यदेश को 2019 के चुनावो का जुमला करार दिया। कुछ भी हो छात्र राजनितिक दल अपने फायदे के लिए छात्रों को अपने साथ लेकर चलने का प्रयास करते हैं। इस वाद विवाद से NSUI को कोई फायदा हो या ना हो मगर प्रतिभागियो को जरूर फायदा हुआ एवं उन को अपनी कला का प्रदर्शन करने का मौका मिला।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

| ख़बर झलकी |