48 Views

विश्व क्रिकेट में एक से बढ़कर एक ऑपनिंग बल्लेबाज़ों दिए हैं लेकिन आज हम बात करेंगे ऐसे ऑपनिंग जोड़ी की जिसने क्रिकेट की दुनिया में अपनी अलग पहचान बनाई है। इन जोड़ियों के मैदान में उतरने भर से ही विपक्षी टीम का मनोबल कुछ हद तक टूट जाता था। अनिश्चिताओं के खेल क्रिकेट में अकसर देखा जाता है कि अगर शुरुआत बल्लेबाज़ी ही खराब होती हैं, तो बाकि  टीम के बल्लेबाज़ भी दवाब में आ जाते हैं। लेकिन एक अच्छी शुरुआत ही टीम की ज्यादा रनों की कल्पना करती हैं और अपने आने वाले खिलाड़ियों पर दबाव कम करती है जिससे टीम के  जीतने के चांसेस बढ़ जाते हैं। आज हम आपके साथ ऐसी बेहतरीन जोड़ियों की चर्चा करंगे जिनको बड़े -बड़े गेंदबाज़ भी गंदे करने से कतराते थे।

5- एडम गिलक्रिस्ट और मार्क वॉ की जोड़ी

एडम गिलक्रिस्ट को दुनिया के सबसे आक्रामक बल्लेबाज़ों में से एक माना जाता हैं। वहीं मार्क वॉ अपने दौर के स्टायलिस्ट खिलाड़ी रहें है जो गेंदबाज़ों पर हावी होना पसंद करते थें। एडम गिलक्रिस्ट और मार्क वॉ की जोड़ी ऑस्ट्रेलिया के लिए पारी की शुरुआत करती थी। इन दोनों की जोड़ी ने उस दौर के सभी गेंदबाज़ों को परेशान किया है चाहे वो पाकिस्तान के नामी गेंदबाज़ वासिम अकरम हो या अफ्रीका के शॉन पॉलक। एडम गिलक्रिस्ट और मार्क वॉ ने 93 पारियां खेली जिनमें उन्होनें 39.35 की औसत से 3660 रन बनाये हैं।

4- वीरेंदर सहवाग और सचिन तेंदुलकर

इन दोनों खिलाड़ियों की ये जोड़ी काफी ज्यादा मशहूर थी एक तरफ क्रिकेट के भगवाव कहे जाने वाले सचिन तेंदुलकर थे. जिन्हे धैर्य के साथ रन बनाना आता था। वहीं, दूसरी तरफ वीरेंद्र सहवाग थे। जो सिर्फ इतना ही जानते थे कि अगर गेंद आयी हैं ,तो उसे बाउंड्री के बाहर भेजना हैं। इस सलामी जोड़ी ने भारत को कई मैच जीताने में अहम भुमिका निभाई है। सचिन और सहवाग ने 40.27 की शानदार औसत से 93 पारियों में 3745 रन बनाये हैं।

ये भी पढ़ें:-ODI में पहले नंबर पर सचिन नहीं गेल ने बनाए सबसे ज्यादा रन तो धोनी ने छठे नंबर पर, देखें 1 से 11 तक की पूरी लिस्ट

3- ग्रीनिज-हेन्स की जोड़ी

वेस्टइंडीज के सुनहरे युग में ग्रीनिज-हेन्स की जोड़ी ने कई शानदार पारियां खेलकर बल्लेबाज़ी जोड़ी को नया आयाम दिया। वेस्टइंडीज के लिए दोनों ऑपनिंग करते हुए 102 पारियों में 48.32 की औसत से 4784 रन बनाए हैं। वनडे में उनकी सर्वोच्च साझेदारी 182 रन है जो 1981 में पाकिस्तान के खिलाफ बनाया गया है। इस जोड़ी का नाम लिए बिना वेस्टइंडीज क्रिकेट के सुनहरे युग के बारे में बात करना मुश्किल है।

2- एडम गिलक्रिस्ट और मैथ्यू हेडन 

विश्व क्रिकेट के इतिहास में सबसे खतरनाक जोड़ियों में से एक, मैथ्यू हेडन और एडम गिलक्रिस्ट ने मैदान के चारों ओर गेंदों को मारा है और किसी गेंदबाज पर कोई दया नहीं दिखाई। उन्होंने 2003 और 2007 के क्रिकेट विश्व कप में बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभाई और ऑस्ट्रेलिया को विश्वकप जीतने में मदद की। अनुभवी जोड़ी ने 114 पारियों में एक साथ पारी खोलने के बाद 48.39 की औसत से 5372 रन बनाए।

1- सचिन तेंदुलकर और सौरव गांगुली 

 इन दोनों की जोड़ी को एक सलामी और दुनिया की सबसे बेहतरीन जोड़ियों में से एक माना जाता हैं। ये जोड़ी जब भी मैदान में उतरती थी तभी अच्छे -अच्छे गेंदबाज की शामत आ जाती थी। इस जोड़ी ने अभी तक 136 मौचों में सलामी बल्लेबाजी की है जिनमें 49.32 की औसत से 6609 रन टीम के लिए बनाए है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *