सुप्रीम कोर्ट के न्यायाधीश रंजन गोगोई होंगे भारत के अगले मुख्‍य न्‍यायाधीश (CJI)

सुप्रीम कोर्ट के वरिष्ठ न्यायाधीश रंजन गोगोई देश के अगले मुख्य न्यायाधीश (सीजेआई) होंगे। सूत्रों ने बताया कि जजों की वरिष्‍ठता की परंपरा को कायम रखते हुए मुख्‍य न्‍यायाधीश दीपक मिश्रा जल्‍द ही अपने उत्तराधिकारी के रूप में जस्टिस गोगोई के नाम का प्रस्‍ताव करेंगे। चीफ जस्टिस मिश्रा 2 अक्टूबर को रिटायर होने वाले हैं और उन्हें अपने रिटायर होने के कम से कम एक महीने पहले सरकार को अगले चीफ जस्टिस के लिए नाम का सुझाव देना है।

नियमों के मुताबिक, सरकार सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस से उनके उत्तराधिकारी का नाम पूछती है और सीजेआई के सुझाए नाम पर ही सरकार अपनी मुहर लगाती है रिपोर्ट के मुताबिक, चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा सितंबर के पहले हफ्ते तक सरकार को नाम का सुझाव दे सकते हैं।

बता दें कि जस्टिस रंजन गोगोई असम से हैं और फिलहाल चीफ जस्टिस मिश्रा के बाद सुप्रीम कोर्ट में सबसे वरिष्ठ हैं। जस्टिस गोगोई 2011 में 12फरवरी को पंजाब और हरियाणा हाई कोर्ट के चीफ जस्टिस बने थे और 23 अप्रैल 2012 को वह सुप्रीम कोर्ट के न्यायाधीश के रुप में शपथ लिया। बताया जा रहा है कि सुप्रीम कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश के तौर पर जस्टिस गोगोई का कार्यकाल एक साल, एक महीने और 14 दिन का होगा। वह 17 नवंबर 2019 को सेवानिवृत्त होंगे। गौरतलब है कि जस्टिस रंजन गोगोई उन चार जजों में शामिल थे जिन्‍होंने जनवरी महीने में मुख्‍य न्‍यायाधीश जस्टिस दीपक मिश्रा की एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में यह कहते हुए आलोचना की थी कि वह मामलों के आवंटन में सुप्रीम कोर्ट के मास्‍टर ऑफ द रोस्‍टर होने के अपने अधिकार का दुरुपयोग कर रहे हैं। वतर्मान में गोगई असम के नेशनल रजिस्‍टर ऑफ सिटिजन (एनआरसी) मामले की सुनवाई कर रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

| ख़बर झलकी |