6 Views

कोरोना वायरस से लड़ने के लिए भारतीय रेलवे ने खाली पड़ी ट्रेन की बोगियों को आइसोलेशन कोच बना रहा है। देश में कोरोना वायरस के बढ़ते मरीज़ों की संख्या को देखते हुए आने वाले समय में ज़्यादा आइसोलेशन सेंटर्स की ज़रूरत पड़ सकती है, ऐसे में रेलवे ने अपने खाली पड़े ट्रेन की बोगियों को आइसोलेशन कोच बनाने का काम शुरू कर दिया है। हर कोच में 10 आइसोलेशन वार्ड तैयार किए जाएंगे।

प्राप्त जानकारी के मुताबिक, बोगियों में डॉक्टर, नर्स और पैरा मेडिकल स्टाफ के लिए अलग केबिन बनाए जा रहे हैं। कोच को सैनिटाइज़ करके दोनों टॉयलेट को बाथरूम में बदला जा रहा है। साथ ही, नए सिरे से फ्लोरिंग की जा रही है।

मरीज़ के केबिन को थोड़ा बड़ा करने के लिए सामने की बर्थ में लगी तीन अन्य सीटों को हटाया गया है। साथ ही, बर्थ पर चढ़ने के लिए लगाई गई सभी सीढ़ियों को भी हटा दिया गया है। मेडिकल इक्विपमेंट्स के लिए कंपार्टमेंट में इलेक्ट्रिक पॉइंट बनाए गए हैं। आइसोलेशन कोच तैयार करने के लिए बाथरूम, गलियारे और दूसरी जगहों पर भी फेरबदल किया गया है।

इतना ही नहीं रेलवे का कहना है कि कोच में नहाने के लिए बकेट और हैंड्स शावर की भी व्यवस्था की गई है। गौरतलब है कि रेलवे योजना बना रहा है कि हर ज़ोन में हर हफ्ते 10 कोच को आइसोलेशन वॉर्ड में बदला जाए।

By bebaak

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *