63 Views

रायपुर स्थित आंबेडकर अस्पताल में 27 मार्च को एक महिला ने जुड़वा बच्चों को जन्म दिया, जिसके बाद परिवार वालों ने बच्चों का नाम ‘कोरोना’ और ‘कोविड’ रख दिया है। बच्चों की मां प्रीति वर्मा ने बताया कि इस समय पूरा देश कोरोना से जंग लड़ रहा है। भारत के इतिहास में पहली बार ऐसा हुआ जब यात्री ट्रेन का परिचालन बंद कर दिया गया। हर व्यक्ति घरों में कैद है।

उन्होंने कहा कि ऐसे में मेरे लिए 27 मार्च की रात विशेष अहमियत रखती है। एक तरफ जहां कोरोना से लोग परेशान हैं तो वहीं दूसरी तरफ उनके घर जुड़वा बच्चों का जन्म हुआ। लिहाजा वर्मा दंपती ने अपने जुड़वा बच्चों में बेटी का नाम कोरोना तो बेटे का नाम कोविड रखा है।

उन्होंने कहा, “मैं इस दिन को जिंदगी भर नहीं भूल सकती। शुक्रवार की शाम से पेट में दर्द शुरू हुआ, ऐसे में आंबेडकर अस्पताल तक पहुंचने के लिए काफी जद्दोजहद करनी पड़ी। लॉकडाउन के चलते अस्पताल आने के लिए साधन नहीं मिल रहा था। इसलिए मोटरसाइकिल से किसी तरह आंबेडकर अस्पताल पहुंची। जबकि पेट में जुड़वा बच्चे थे। रास्ते में जगह-जगह चेकिंग चल रही थी। सड़क पर तैनात जवान आने-जाने वालों को रोककर पूछताछ कर रहे है। हमें भी कई जगहों पर चेकिंग से गुजरना पड़ा।”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *