बॉल टेम्परिंग विवाद पर सचिन का बयान, कहा सभी पीछे हटें और उन्हें थोड़ा समय दें

क्रिकेट के भगवान कहे जाने वाले सचिन तेंडुलकर का बॉल टेम्परिंग विवाद में बयान सामने आया है। तेंडुलकर ने कहा है कि ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी स्टीव स्मिथ, डेविड वॉर्नर और कैमरन बेनक्राफ्ट को समय दिया जाना चाहिए। सचिन ने ट्वीट कर लिखा, ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों को उन्हें अपने किए काम पर पछतावा है और उन्हें इसी यादों के साथ जीना होगा। हम उनके परिवार के बारे में सोचें, क्योंकि खिलाड़ियों के साथ उनके परिवार को भी इस प्रताड़ना से गुजरना होगा। अब समय आ गया है कि हम सभी पीछे हटें और उन्हें थोड़ा समय दें । सचिन का ये बयान इसलिए भी मायने रखाता है क्योंकि क्रिकेट के भगवान कहे जाने वाले तेंडुलकर भी बॉल टेंपरिंग के विवाद से अछूते नही रहें हैं। विवादों से दूर रहने वाले सचिन भी अफ्रीका दौरे पर ही अपने करियर में बॉल टेंपरिंग का आरोप झेल चुके हैं।

ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट में बॉल टेम्परिंग से उठे बवाल थमने का नाम नहीं ले रहा है। पूर्व कप्तान स्टीव स्मिथ और डेविड वॉर्नर पर एक साल का बैन लगने के बाद अब कोच डेरेन लेहमन ने भी पद से इस्तीफा दे दिया है। शुक्रवार 30 मार्च से शुरू हो रहे ऑस्ट्रेलिया-दक्षिण अफ्रीका के टेस्ट के बाद लेहमन अपना पद छोड़ देंगे। गुरूवार को हुए एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में स्टीव स्मिथ और कोच लेहमन दोनों ही भावुक होकर रो पड़े थे। आपको बता दें कि बॉल-टेम्परिंग विवाद में पूर्व ऑस्ट्रेलियाई कप्तान स्टीव स्मिथ, उप-कप्तान डेविड वॉर्नर और कैमरून बैनक्रॉफ्ट को आस्ट्रेलिया बोर्ड ने 1 साल का प्रतिबंध लगाया है। स्मिथ और वॉर्नर अगले 12 महीने तक अंतराष्ट्रीय क्रिकेट से अलग रहेंगे। जबकि बैनक्रॉफ्ट पर अगले नौ महीने का बैन लगाया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *