अंबेडकर की मूर्ति टूटने के बाद बदला मूर्ति का रंग, भगवा रंग में दिखने के बाद दोबारा नीले रंग में रंगे गए बाबा साहेब अंबेडकर

यूपी में बाबा साहेब भीमराव अंबेडकर की प्रतिमा के साथ लगातार छेड़छाड़ और क्षतिग्रस्त होने की खबरों के बाद अब अंबेडकर की मूर्ति का रंग बदलना भी मीडिया की सुर्खियों में है। यूपी के बदायूं जिले में लगी अंबेडकर की प्रतिमा का रंग नीला से बदलकर भगवा कर दिया गया है। बता दें कि बदायूं के कुंवरगांव थाना क्षेत्र के दुगरैया गांव में बाबा साहेब भीमराव अंबेडकर की मूर्ति है। पिछले दिनों इसी मूर्ति के साथ शरारती तत्वों ने तोड़फोड़ की थी, जिसके बाद इलाके के लोगों ने रोष प्रकट किया था। जिसके बाद उसी जगह पर बाबा साहेब अंबेडकर की नई मूर्ति स्थापति की गई। लेकिन 7 अप्रैल की रात को किसी शरारती तत्व ने बाबा साहेब की मूर्ति का रंग बदल कर भगवा कर दिया। जिसके बाद यह घटना क्षेत्र में चर्चा का विषय बनी हुई है। हालांकि इलाके के कुछ लोगों का यह भी कहना है कि बाबा साहेब की नई मूर्ति भगवा रंग की ही मंगवाई गई थी। इस मामले में प्रशासनिक अफसरों और पुलिस ने कुछ भी कहने से मना कर दिया है।

गौरतलब है कि 7 अप्रैल की घटना के बाद एक स्थानीय निवासी के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर ली गई है जो अभी फरार है। इससे पहले यहां 2014 में भी अंबेडकर की मूर्ति तोड़ी गई थी। इन दिनों उत्तर प्रदेश में आंबेडकर को लेकर राजनीति गर्मायी हुई है। कई जगह अंबेडकर की मूर्तियां तोड़ने के मामले सामने आए। फिर राज्य सरकार द्वारा बीआर अंबेडकर के नाम पर रामजी जोड़ने के आदेश भी सुना दिया गया जिसपर कई कुछ लोग नाराजगी भी जाहिर कर चूकें हैं। इसके बाद मूर्ति के रंग में बदलाव राजनीति को नई दिशा में ले जा रहा है। अब खबर आ रही है कि भगवा रंग में रंगे अंबेडकर की मूर्ति को बीएसपी नेता ने दोबारा नीला रंग में रंग दिया है और ऐसा कहा जा सकता है कि यह रंग बदलने की राजनीति अभी रूकने वाली नही हैं।

मालूम हो कि बदायूं जिला समाजवादी पार्टी (सपा) का गढ़ माना जाता है। यहां लंबे समय से मुलायम सिंह यादव के परिवार के सदस्य सांसद हैं। 2014 लोकसभा चुनाव में मोदी लहर भी यहां बेअसर रहा था और मुलायम सिंह यादव के भतीजे धर्मेंद्र प्रधान लोकसभा परिणान में विजय बन सांसद बने थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

| ख़बर झलकी |